अखिलेश यादव का बयान, ‘मैं तारीफ तब करता जब…’, ‘ऑपरेशन गंगा’ पर

लखनऊ   (मानवीय सोचउत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए सातवें चरण के मतदान के बीच समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव बीजेपी पर निशाना साधा है। उन्होंने रूस-यूक्रेन में जारी युद्ध के दौरान भारत सरकार द्वारा भारतीयों की निकासी को लेकर कहा कि वाराणसी में चुनाव की वजह से ‘ऑपरेशन गंगा’ नाम दिया गया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ना जाने कौन से अंतरराष्ट्रीय पहचान का दावा करती है। केंद्र सरकार यूक्रेन से भारतीयों का रेस्क्यू करने में असफल रही है। अगर उन्होंने भारतीयों को सीधे यूक्रेन से रेस्क्यू किया होता तो मैं इसकी तारीफ करता।

साथ ही अखिलेश ने कहा, ‘जनता इस बार डबल इंजन की सरकार की पटरियों को उखाड़ने के लिए तैयार है। लगभग 300 सीटें सपा गठबंधन जीतेगा।

बता दें कि जिले की 10 विधानसभा सीटों के लिए 36 लाख, 45 हजार, 548 मतदाता जिले के दस जनप्रतिनिधियों की किस्मत लिखेंगे। चुनाव के अंतिम चरण में उत्तर प्रदेश के कई मंत्रियों के चुनावी भाग्य का फैसला होगा। इनमें पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी (वाराणसी दक्षिण), अनिल राजभर (शिवपुर-वाराणसी), रविंद्र जायसवाल (वाराणसी उत्तर), गिरीश यादव (जौनपुर) और रमाशंकर पटेल (मड़िहान-मिर्जापुर) शामिल हैं।

इसके अलावा विधानसभा चुनाव से ऐन पहले भाजपा छोड़कर सपा में गए पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान (घोसी-मऊ) और भाजपा का साथ छोड़कर इस बार सपा से गठबंधन कर चुनाव लड़ रहे सुभासपा अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर (जहूराबाद-गाजीपुर), गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी (मऊ सदर) तथा बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह (मल्हनी-जौनपुर) की उम्मीदवारी वाली सीट पर भी इसी चरण में ही वोट डाले जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पूर्ववर्ती छह चरणों में 349 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान संपन्न हो चुका है। अंतिम चरण के लिए मतदान जारी है। प्रदेश में सात चरणों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे आगामी 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.