अब राजनीति का सहारा, लंबाई की वजह से नहीं हुई शादी, धर्मेंद्र ने हाल में ज्वाइन कर ली सपा

नई दिल्ली (मानवीय सोच) भारत के सबसे लंबे आदमी धर्मेंद्र प्रताप सिंह ने हाल ही में अपनी राजनीतिक पारी शुरू की है। वे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ऐन पहले समाजवादी पार्टी में शामिल हुए हैं। समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर धर्मेंद्र प्रताप सिंह की एक तस्वीर पोस्ट की गई है जिसमें धर्मेंद्र प्रताप सिंह समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव सहित अन्य नेताओं के साथ दिखाई दे रहे हैं। इस तस्वीर के वायरल होते ही लोग धर्मेंद्र प्रताप सिंह के बारे में जानने की कोशिश करने लगे।

दरअसल, प्रतापगढ़ के रहने वाले धर्मेंद्र प्रताप सिंह भारत के सबसे लंबे व्यक्ति हैं। धर्मेंद्र 46 साल के हैं और उनकी लंबाई 8 फीट 2 इंच है। धर्मेंद्र प्रताप सिंह का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज है और उन्हें एशिया के सबसे लंबे पुरुषों में से एक के रूप में भी देखा जाता है। सिंह उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले की सदर तहसील के नरहरपुर कसियाही गांव के रहने वाले हैं।

धर्मेंद्र प्रताप सिंह ने हिंदी से मास्टर ऑफ आर्ट्स (एमए) तक पढ़ाई की है। उनके घर से बाहर निकलने पर लोगों का बड़ा हुजूम उमड़ पड़ता है और सेल्फी लेने वालों का मजमा लग जाता है। वहीं, धर्मेंद्र रोजगार की तलाश में भटकते रहते हैं। लंबाई अधिक होने की वजह से उन्हें झुकने में दिक्कत होती है और इसी वजह से नौकरी भी नहीं मिली और न ही शादी हुई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक धर्मेंद्र के कमर के नीचे कूल्हे में दर्द होने के कारण और अधिक लंबाई के कारण उन्हें रोज के भी काम करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने लखनऊ के डॉक्टर को दिखाया तो उन्होंने ऑपरेशन करवाने की सलाह दी है, जिसमें काफी खर्चा आएगा। आजतक की एक रिपोर्ट के मुताबिक ऑपरेशन खर्च और नौकरी के अभाव में इस जरूरतमंद ने सीएम योगी से भी मुलाकात की थी।

धर्मेंद्र प्रताप सिंह की लंबाई के चलते अब तक उनकी शादी भी नहीं हो सकी है। इनके कई रिश्तेदारों ने शादी कराने की कोशिश की लेकिन बात नहीं बनी। कोरोना के चलते धर्मेंद्र प्रताप स‍िंह की आमदनी पर भी बुरा असर पड़ा। वे अक्‍सर द‍िल्‍ली और मुंबई जाया करते थे। इस दौरान द‍िल्‍ली के कनॉट प्लेस और मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया पर वे जाते थे। इस दौरान लोग उनके साथ सेल्फी लेते थे और उन्‍हें पैसे और उपहार भी देते थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.