आईपीएल से पहले ही महेंद्र सिंह धोनी की आधी ताकत खत्म

नई दिल्ली (मानवीय सोच) आईपीएल  के 15वें सीजन का इंतजार पूरी दुनिया को बेसब्री से है. इस बड़ी लीग का 15वां सीजन धमाकेदार होने वाला है क्योंकि इस साल से आईपीएल में 8 नहीं बल्कि 10 टीमें होने वाली हैं. खबरों की मानें तो आईपीएल अगले महीने के आखिर में शुरू हो जाएगा. लेकिन आईपीएल के शुरू होने से पहले ही चार बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स  को एक तगड़ा झटका लगा है. दरअसल महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली इस टीम का एक चैंपियन खिलाड़ी आईपीएल 2022 से बाहर हो सकता है.

सीएसके को लगा तगड़ा झटका

आईपीएल 2022  को शुरू होने में अब ज्यादा समय नहीं रह गया है. लेकिन उससे पहले ही धोनी की सीएसके के लिए एक बुरी खबर आई है. दरअसल सीएसके के धाकड़ तेज गेंदबाद दीपक चाहर  आईपीएल 2022 से चोट के चलते बाहर हो सकते हैं. चाहर को हाल ही में वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के दौरान चोट लग गई थी और वो श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज से भी बाहर हो गए. अब उनके आईपीएल खेलने पर भी सवाल बना हुआ है. फॉर्म में चल रहे तेज गेंदबाज दीपक चाहर को रविवार को कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय के दौरान चोट लगी थी.

वेस्टइंडीज के खिलाफ हुए चोटिल

वेस्टइंडीज के खिलाफ आखिरी टी-20 मैच के दौरान दीपक चाहर अपना दूसरा ओवर फेंक रहे थे. तब तक वह 11 गेंदों में दो विकेट चटका चुके थे और शानदार फॉर्म में दिख रहे थे. अपने दूसरे ओवर की आखिरी गेंद के लिए रनअप लेते समय दीपक दर्द से जूझते दिखे और आधे रनअप पर रुक गए. दीपक की दाईं जांघ में खिंचाव हुआ था. दीपक का पूरा ओवर भी वेंकटेश अय्यर ने किया. लेकिन खबर ये भी है कि दीपक की चोट इतनी घातक है कि वो अब आईपीएल 2022 के पूरे सीजन से बाहर हो सकते हैं.

14 करोड़ के बिके दीपक

सीएसके ने चाहर  को 14 करोड़ रुपये में फिर से अपनी टीम से जोड़ा. वह आईपीएल नीलामी में सबसे बड़ी कीमत पर बिकने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. चाहर ने कहा कि वह चेन्नई के अलावा किसी अन्य टीम का हिस्सा बनने के बारे में नहीं सोच सकते हैं. चाहर ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘मैं सीएसके की तरफ से ही खेलना चाहता था क्योंकि मैंने पीली जर्सी (चेन्नई की पोशाक) के अलावा किसी अन्य जर्सी में खेलने की कल्पना तक नहीं की थी.’

सीएसके के लिए करते आए हैं कमाल

चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2021 का खिताब जीता था. इसमें सबसे अहम योगदान दीपक चाहर  का रहा था. चाहर ने खतरनाक गेंदबाजी का नमूना पेश किया था. जब भी कप्तान महेंद्र सिंह धोनी  को विकेट की आवश्यकता होती थी, वह दीपक चाहर का नंबर घुमा देते थे. भारतीय पिचों पर दीपक चाहर ने खूब कहर बरपाया था. चाहर ने आईपीएल  के कुल 69 मैचों में 59 विकेट हासिल किए हैं. उनकी धारदार गेंदबाजी को खेलना बल्लेबाजों के लिए ऐसा था, जैसे लोहे के चने चबाना.

Leave a Reply

Your email address will not be published.