कक्षा नौ में प्रवेश ही नहीं ले पाए 20 प्रतिशत बच्चे

लखनऊ (मानवीय सोच) कक्षा आठ पास करने वाले लगभग 20 फीसदी छात्रों ने कक्षा नौ में प्रवेश नहीं लिया है। बेसिक शिक्षा विभाग ने इस पर चिंता जताई है और एक अप्रैल से शुरू हो रहे नए सत्र में ऐसे बच्चों का प्रवेश कक्षा नौ में करवाने के निर्देश दिए हैं। यह डाटा वर्ष 2020-21 का है।

निदेशक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने आदेश जारी किए हैं कि कक्षा पांच पास विद्यार्थियों का प्रवेश कक्षा छह और कक्षा आठ पास विद्यार्थियों का प्रवेश कक्षा नौ में करवाया जाए। इसके लिए अभिभावकों से संपर्क किया जाए और अनुपस्थित बच्चों को स्कूल आने के लिए प्रेरित किया जाए।

वर्ष 2019-20 में कक्षा आठ में 3684475 बच्चे पंजीकृत थे लेकिन 2020-21 के नए सत्र में कक्षा नौ में केवल 2958889 बच्चे ही पहुंचे यानी 725586 बच्चे कक्षा नौ तक पहुंचे ही नहीं। जानकारी के अनुसार लड़कों के मुकाबले लड़कियां पढ़ाई ज्यादा छोड़ती हैं। कक्षा नौ में जहां 85.66 फीसदी लड़के पहुंचते हैं वहीं 74.63 प्रतिशत लड़कियां ही अगली कक्षा में पहुंची हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.