खतरनाक कदम, पिता को गोद में उठाकर दो मंजिला मकान से नीचे फेंका

मुंगेर  (मानवीय सोच) बिहार के मुंगेर जिले से एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है जहां बेटे ने पिता की पेंशन राशि पाने के लिए पिता को ही दो मंजिलें छत से नीचे फेंक दिया जिसके बाद पिता की मौत मौके पर ही गई. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

बड़े बेटे के साथ रहते थे मृतक पिता 

प्राप्त जानकारी के अनुसार, थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर डीएसपी कोठी के पीछे रामस्वरूप यादव (70) सेवानिवृत्त रेलकर्मी अपने तीन पुत्रों में से बड़े पुत्र महादेव यादव के साथ रहते थे. शेष दो पुत्र पत्नी फुलकिया देवी के साथ रहते थे.

इस वजह से चल रहा था डिस्प्यूट 

रामस्वरूप यादव अपनी पेंशन राशि का आधा हिस्सा अपनी पत्नी को और आधी बची राशि से अपनी गुजर-बसर करता था जो पत्नी और उसके दो पुत्रों को नागवार लग रहा था.

पिता को गोद में उठाकर छत से नीचे फेंक दिया

बुधवार को रामस्वरूप यादव पूजा करने के लिए दो मंजिला छत पर पहुंचा था जहां पहले से मौजूद छोटे बेटे से उनकी पेंशन राशि को लेकर ही विवाद हुआ. इसके बाद गुस्से से तिलमिलाए छोटे बेटे राधे श्याम यादव ने पिता को गोद में उठाकर छत से नीचे फेंक दिया जिसके बाद पिता रामस्वरूप यादव की मौके पर ही मौत हो गई. जानकारी में बताया गया कि 6  माह पहले भी छोटे बेटे ने पेंशन राशि पाने के लिए पिता का पैर तोड़ दिया था.

पुलिस कर रही है मामले की छानबीन 

घटना की सूचना मिलते ही एसएचओ विजय कुमार यादवेंदू ने मौके पर पहुंच शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. घटना के संबंध में बताया कि पेंशन की राशि पाने को लेकर बेटे ने पिता को छत से नीचे फेंक दिया है जिससे पिता की मौत मौके पर ही हो गई है. मामले में परिजनों द्वारा अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गई है. पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.