टैटू बनाने के नाम पर महिलाओं के साथ की गंदी हरकत

कोच्चि (मानवीय सोच) केरल के कोच्चि  में पुलिस ने टैटू बनाने का काम करने वाले एक शख्स को गिरफ्तार किया है. शख्स पर आरोप है कि वो टैटू बनाने के बहाने महिलाओं को आपत्तिजनक तरीके से छूता था. पहले 18 साल की एक लड़की ने शख्स पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया. और फिर मामले के तूल पकड़ने के बाद कई अन्य पीड़ित महिलाएं भी सामने आईं, जिनके साथ उसने कथित रूप से दुर्व्यवहार किया था.

टैटू बनाने वाले पर यौन शोषण का आरोप

बता दें कि आरोपी का नाम सुजीश पीएस है. वो टैटू बनाने का काम करता है. आरोपी को आज (रविवार को) मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा. कई महिलाओं ने सुजीश पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया है. पुलिस ने सुजीश को शनिवार देर रात गिरफ्तार किया था.

18 साल की युवती ने सुनाई आपबीती

18 साल की एक लड़की ने सोशल मीडिया पोस्ट में कहा था कि सुजीश ने उसके प्राइवेट पार्ट्स पर टैटू बनाने के दौरान उसका यौन उत्पीड़न किया था. इसके बाद पांच और महिलाओं ने उसके खिलाफ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया.

कैसे पकड़ा गया आरोपी?

ये मामला सामने आने के बाद से फरार चल रहे सुजीश को कोच्चि शहर की पुलिस टीम ने उस समय गिरफ्तार कर लिया, जब वो शनिवार की रात एक वकील के दफ्तर पहुंचने की कोशिश कर रहा था. पुलिस ने बचे लोगों के बयान दर्ज करना शुरू कर दिया है.

कोच्चि शहर के पुलिस कमिश्नर सी नागराजू ने कहा कि आरोपी गिरफ्तारी से बचने की कोशिश कर रहा था. हमारी टीम ने उसे हिरासत में ले लिया. उसे रविवार को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा.

जान लें कि टैटू कलाकार की उम्र 35 साल है. टैटू कलाकार पिछले दस साल से कोच्चि में एक स्टूडियो चला रहा है. हालांकि, उनके परिवार और दोस्तों ने शिकायत की है कि टैटू खुले तौर पर किया गया था और उन्होंने किसी भी महिला का यौन शोषण नहीं किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.