पहली बार केंद्रीय कानून सचिव दिल्ली हाई कोर्ट के जज नियुक्त

नई दिल्ली  (मानवीय सोच) केंद्रीय विधि सचिव को दिल्ली हाई कोर्ट का न्यायाधीश नियुक्त किया गया है. ऐसा पहली बार है, जब एक केंद्रीय विधि सचिव को हाई कोर्ट का न्यायाधीश नियुक्त किया गया है. कानून मंत्रालय में न्याय विभाग के अनुसार, केंद्रीय विधि सचिव अनूप कुमार मेंदीरत्ता  को दिल्ली हाई कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया है.

कौन हैं अनूप कुमार मेंदीरत्ता?

सरकारी सूत्रों ने बताया कि न्यायिक अधिकारी के रूप में उनकी वरिष्ठता के आधार पर मेंदिरत्ता को न्यायाधीश नियुक्त किया गया है. उनके नाम की सिफारिश हाल ही में उच्चतम न्यायालय के कॉलेजियम ने की थी. मेंदीरत्ता को अक्टूबर 2019 में कानून सचिव बनाया गया था. इससे पहले वह दिल्ली में एक न्यायिक अधिकारी थे. यहां तक कि ऐसा पहली बार था, जब किसी सेवारत जिला एवं सत्र न्यायाधीश को केंद्रीय विधि सचिव बनाया गया था. आदेश के अनुसार, उन्हें 30 मार्च 2023 (60 वर्ष का होने तक) तक अनुबंध के आधार पर विधि सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था.

इन 3 न्यायिक अधिकारियों को भी मिला प्रमोशन

अनूप कुमार मेंदीरत्ता के अलावा, तीन अन्य न्यायिक अधिकारियों नीना बंसल कृष्णा, दिनेश कुमार शर्मा और सुधीर कुमार जैन को भी दिल्ली हाई कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया है. न्याय विभाग ने शुक्रवार को नई नियुक्तियों के बारे में ट्वीट करके यह जानकारी दी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.