मानव रहित हवाई वाहनों पर प्रतिबंध, 26 जनवरी से पहले दिल्ली में अलर्ट

नई दिल्ली (मानवीय सोच) : गणतंत्र दिवस पर किसी भी आतंकी साजिश से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है। राजधानी में 20 जनवरी से 15 फरवरी तक मानव रहित हवाई वाहनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया कि इस अवधि में पैरा-ग्लाइडर, पैरा-मोटर, मानव रहित विमान प्रणाली, दूर से चलने वाले विमान, छोटे आकार के विमान, क्वाडकॉप्टर, पैरा-जंपिंग आदि का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। मानव रहित हवाई वाहन (यूएवी) के उपयोग से आतंकी आम जनता, गणमान्य व्यक्तियों और महत्वपूर्ण स्थानों की सुरक्षा के लिए खतरा उत्पन्न कर सकते हैं।

इंटेलिजेंस ब्यूरो ने दिल्ली पुलिस से 9 पन्नों का अलर्ट साझा किया है। बताया जा रहा है कि आतंकी देश के कई बड़े नेताओं को निशाना बनाने की साजिश रच रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि आतंकी संगठन खालिस्तान लिबरेशन फोर्स ने अन्य आतंकी संगठनों के साथ साजिश रची है। जिसको देखते हुए राजधानी के प्रमुख स्थानों और इमारतों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

इस बार गणतंत्र दिवस की परेड आधा घंटा देरी से शुरू होगी। आजादी के 75 वर्ष में पहली बार ऐसा हो रहा है कि परेड आधा घंटा देरी से शुरू होगी। दूसरी तरफ गाजीपुर फूल मंडी में आईईडी (बम) मिलने से गणतंत्र दिवस की परेड को सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ी हुई है। हालत ये है कि परेड रूट की बम निरोधक दस्ते से दिन में दो बार चेकिंग करवाई जा रही है। इस बार सुरक्षा व्यवस्था को बहुत ही कड़ा किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.