ये भविष्यवाणी कांग्रेस ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि सच हो जाएगी अटल जी की

नई दिल्ली (मानवीय सोच)  पांच राज्यों के चुनावी नतीजे घोषित होने से कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों में निराशा का माहौल है. लेकिन इन सब के बीच भी कोई राजनीतिक दल अगर सबसे ज्यादा निराश है तो वो कांग्रेस ही है क्योंकि उसने अपना एक और राज्य गंवा दिया है. इन 5 राज्यों में से 4 में भाजपा की सरकार बनने जा रही है और 1 में आम आदमी पार्टी की. हालांकि इन चारों ही राज्यों में पहले से भी भाजपा की ही सरकार है और 1 राज्य जो AAP के पास जा रहा है वो अब तक कांग्रेस का ही गढ़ हुआ करता था.

ढल गया कांग्रेस का सूरज? 

यानी कि स्पष्ट है कि कांग्रेस की स्थिति दिन ब दिन खराब ही होती जा रही है. राजनीतिक पंडितों की मानें तो भाजपा की प्रचंड जीत भी इसी ओर इशारा करती है कि आने वाले सालों में भी कांग्रेस के लिए समय कुछ ज्यादा अच्छा नहीं रहने वाला है. ऐसे में लोग सोशल मीडिया पर कांग्रेस को खूब ट्रॉल कर रहे हैं और वो दौर याद दिला रहे हैं जब कांग्रेस ने जनसंघ (आज की भाजपा) के कम नंबरों का मजाक उड़ाया था.

अटली जी ने की थी ऐसी भविष्यवाणी

उस समय पूर्व प्रधानमंत्री और भाजपा के संस्थापक अटल बिहारी वाजपेयी ने कांग्रेस से कहा था, ‘हम उस घड़ी की प्रतीक्षा करेंगे, जब हमें स्पष्ट बहुमत प्राप्त हो…. आज आप मेरा उपहास उड़ा लें लेकिन एक वक्त ऐसा आएगा जब लोग आपका उपहास उड़ाएंगे.’ उस समय अटल बिहारी वाजपेयी ने यह भी कहा था कि एक दिन पूरे देश में कमल खिलेगा. दो दशक पहले उन्होंने भाजपा के दृढ़ निश्चय को सामने रखते हुए संसद में कहा था कि हमने मेहनत की है, हमने संघर्ष किया है. यह 365 दिन चलने वाली पार्टी है. ये चुनाव में कोई कुकुरमुत्ते की तरह उगने वाली पार्टी नहीं है…हम बहुमत का इंतजार करेंगे. अब भाजपा के लिए वो इंतजार समाप्त हो गया है. पिछले 8 सालों से पार्टी लोक सभा हो या विधान सभा चुनावों में बंपर वोट हासिल कर रही है.

एक वोट से गिरी थी अटल जी की सरकार

लोक सभा में कांग्रेस को लेकर अटल बिहारी वाजपेयी ने जो भविष्यवाणी की थी, वह आज सच साबित हो रही है. एक समय में देश पर एकक्षत्र राज करने वाली कांग्रेस आज UP में 5 सीटें तक नहीं जीत पाई है. लेकिन उस समय कांग्रेस का बोलबाला कुछ ऐसा था कि उनके सांसद गिरधर गोमांग ने ओडिशा के मुख्यमंत्री रहते लोक सभा में मतदान किया था और उसी एक वोट ने बाजी पलट दी थी. कांग्रेस को शायद याद हो या न हो, लेकिन सोशल मीडिया पर लोग वो लाइनें याद कर रहे हैं और #atalbiharivajpayee ट्रेंड हो रहा है.

हर चुनाव में हो रहा कांग्रेस का पतन

हालांकि यह पंक्तियां पहली बार लोगों को याद नहीं आई हैं बल्कि 2019 में जब भाजपा आम चुनावों में जीती थी तब भी लोगों ने इन लाइनों को याद किया था. जिस उत्तर प्रदेश से कांग्रेस के दिग्गज नेता निकले उसी राज्य में पार्टी को 2.33 प्रतिशत वोट मिले हैं जबकि भाजपा को 41.29 प्रतिशत मत प्राप्त हुए हैं. पंजाब जहां पर उसकी सत्ता थी, वहां कांग्रेस को 22.98 प्रतिशत और आम आदमी पार्टी को 42.01 प्रतिशत वोट प्राप्त हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.