योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर सदर से दाखिल किया नामांकन, अमित शाह ने भरी हुंकार

गोरखपुर (मानवीय सोच)  उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को गोरखपुर शहर विधान सभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन दाखिल किया. सीएम योगी के नामांकन के समय केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मौजूद थे. गोरखपुर के महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज में आयोजित जनसभा के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ कलेक्ट्रेट पहुंचे और उन्होंने नामांकन पत्र दाखिल किया.

नामांकन से पहले सीएम योगी ने की पूजा

गोरखपुर से पांच बार सांसद (1998-2017) रह चुके गोरक्षपीठ के महंत एवं मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने नामांकन दाखिल करने से पहले गोरखनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की. सीएम योगी ने ट्वीट किया, ‘आज श्री गोरखनाथ मंदिर में विधि-विधान के साथ देवाधिदेव महादेव का रुद्राभिषेक कर लोक-कल्‍याण एवं लोक-मंगल की कामना की.’ रुद्राभिषेक के बाद योगी ने अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया.

योगी मंदिर से निकलकर गोरखपुर हवाई अड्डे पहुंचे और वहां उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अगवानी की. अमित शाह और केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान समेत योगी का काफिला महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज में आयोजित सभा स्थल पर पहुंचा, जहां शाह और योगी ने उपस्थित लोगों को संबोधित किया.

डबल इंजन की सरकार हर मोर्चे पर खरी उतरी: सीएम योगी

जनसभा में योगी आदित्यनाथ  ने कहा कि डबल इंजन की सरकार हर मोर्चे पर खरी उतरी. वह बोले की उनकी सरकार में हर वर्ग का विकास हुआ है. इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार की जमकर तारीफ की और कहा कि जम्मू कश्मीर से 370 हटाकर आतंकवाद का नामोनिशान मिटाया गया है.

अखिलेश बाबू कोई संभावना नहीं: अमित शाह

गोरखपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने भी हुंकार भरी और अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘आजम खान, अतीक अहमद, मुख्तार अंसारी योगी के शासन में जेल में बंद हैं. अखिलेश बाबू कोई संभावना नहीं है, यूपी की जनता बहुत सालों बाद इनके आतंक से बाहर आई है.’

अमित शाह ने बताई गोरखपुर की फुल फॉर्म

इसके साथ ही अमित शाह  ने गोरखपुर की फुल फॉर्म भी बताई. उन्होंने कहा, ‘उनको यह किसी ने वॉट्सऐप किया है. इसमें- G से गंगा एक्सप्रेसवे, O ऑर्गेनिक खेती, R से रोड, A से एम्स, KH से खाद का कारखाना, PU से पूर्वांचल एक्सप्रेसवे, R से रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर बनाने का काम किया है.’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.