राजा भैया ने की योगी सरकार की तारीफ

प्रतापगढ़ (मानवीय सोच) उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में 5वें चरण के लिए 27 फरवरी को वोटिंग होनी है. इस चरण में कुंडा विधान सभा सीट हाइप्रोफाइल मानी जा रही है. क्योंकि यहां से रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया चुनाव मैदान में है. राजा भैया यहां पर 1993 से लगातार विधायक हैं. उन्होंने योगी आदित्यनाथ की सरकार को पिछली सरकारों की तुलना में बेहतर बताया है. राजा भैया ने कहा कि पिछली सरकारों की तुलना में योगी सरकार सड़क और बिजली के मामले में राज्य में बेहतर है.

‘योगी सरकार पिछली सरकारों की तुलना में बेहतर’

न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए राजा भैया ने कहा कि ‘वर्तमान की योगी सरकार पिछली सरकारों की तुलना में सड़क निर्माण, बिजली कनेक्शन, कैनाल निर्माण इत्यादि के मामले बेहतर साबित हुई है’. कहा जाता है कि सरकारें चाहे किसी की हों, कुंडा में राजा की सत्ता ही रही है. 2002 के बाद हुए तीन चुनावों में सपा ने राजा के खिलाफ कोई प्रत्याशी नहीं उतारा था, लेकिन इस बार सपा ने राजा के पुराने महारथी को ही गुलशन यादव को मैदान में उतारा है.

1993 से लगातार हैं विधायक

वहां पर मौजूद लोग दबी जुबान से कह रहे हैं कि मौजूदा विधायक द्वारा लड़े गए किसी भी पिछले चुनाव ऐसा मुकाबला नहीं देखा गया था. राजा भैया ने पिछले छह कार्यकालों -1993, 1996, 2002, 2007, 2012 और 2017 के लिए एक निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में सभी लहरों और चुनौतियों का सामना करते हुए जीत हासिल की थी. पिछले चुनाव में उनकी जीत का अंतर करीब एक लाख से ज्यादा वोटों का था.

कई सरकारों में बने हैं मंत्री

निर्दलीय चुनाव लड़कर राजा भइया कल्याण सिंह, राजनाथ सिंह, रामप्रकाश गुप्ता, मुलयाम सिंह यादव, अखिलेश यादव तक की सरकार में मंत्री रहे हैं. वो सुर्खियों में तब आए, जब 2002 में तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती ने उन्हें गिरफ्तार करवा कर उनके खिलाफ आतंकवाद निरोधक अधिनियम (पोटा) भी लगाया था. 2003 में मुलायम सिंह यादव की सरकार बनने के तुरंत बाद, उनके खिलाफ पोटा सहित सभी आरोप हटा दिए गए और उनका राजनीतिक कद रातों रात बढ़ गया. उसके बाद से उनका सपा के साथ संबंध बना रहा और पार्टी ने उनके खिलाफ 2007, 2012 और 2017 के तीन चुनावों में उम्मीदवार नहीं उतारा.

कुंडा से विधायक रघुराज प्रताप सिंह राजा भैया का कहना है कि उन्हें मर्जिन बढ़ाने की लड़ाई लड़ रहे हैं. उनके टक्कर में कोई नहीं है. ‘हम किसी भी विरोधी का नाम नहीं लेते है. 6 बार से कुंडा की जनता ने हमारा काम देखा है. यहां सभी लोग हमारे परिवार जैसे है. यहां पर बहुत विकास का काम हो चुका है. जो बचा इस बार किया जाएगा.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.