सुप्रीम कोर्ट पर कोरोना का कहर

नई दिल्ली (मानवीय सोच): उच्चतम न्यायालय के 13 न्यायाधीश और यहां की रजिस्ट्री के 400 कर्मचारी कोविड-19 की तीसरी लहर की चपेट में आ गये हैं। मुख्य न्यायाधीश एन. वी. रमन ने मंगलवार को सुनवाई के दौरान खुद कोरोना के अदालत पर पड़े बुरे प्रभाव के बारे में यह जानकारी साझा की। सुनवाई के दौरान एक वकील ने पीठ के समक्ष शिकायत की थी कि उनके मामले को उच्चतम न्यायालय की रजिस्ट्री द्वारा तत्काल सुनवाई के लिए सूचीबद्ध नहीं किया गया था।

इस पर मुख्य न्यायाधीश ने उस वकील से कहा, अदालत के 13 न्यायाधीशों के साथ-साथ 400 रजिस्ट्री कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित हैं। यदि आप समस्याओं को नहीं जानते हैं, तो हम क्या कर सकते हैं। न्यायमूर्ति रमन ने आगे कहा, “हमारे शरीर सहयोग नहीं कर रहे हैं फिर भी हम काम कर रहे हैं। …कृपया इसे समझने की कोशिश करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.