वनडे में भारत की सबसे बुरी हार:ऑस्ट्रेलिया ने 10 विकेट से 234 बॉल रहते हराया

(मानवीय सोच) भारत को वनडे इतिहास की सबसे बुरी हार मिली है। टीम को दूसरे वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने दस विकेट से हरा दिया। टीम 234 बॉल रहते हार गई। इस लिहाज से यह हमारी वनडे इतिहास की सबसे बड़ी हार है। पिछला रिकॉर्ड 212 बॉल का था। न्यूजीलैंड ने 2019 में हमें हेमिल्टन में हराया था। टीम छठी बार 10 विकेट से हारी है।

कभी न भूलने वाली इस हार की इबारत लिखी कंगारू ओपनर और तेज गेंदबाजों ने। ओपनर ट्रेविस हेड (नाबाद 51 रन) और मिचेल मार्श (नाबाद 66 रन) ने 66 बॉल पर नाबाद 121 रनों की साझेदारी की। दोनों ने अर्धशतक जमाया। गेंदबाजी में मिचेल स्टार्क (5 विकेट) की अगुवाई में शॉन एबॉट ने 3 विकेट और नाथन एलिस ने दो विकेट लिए।

विशाखापट्टनम के डॉ. वाईएस राजशेखर रेड्डी स्टेडियम में कंगारुओं ने पहले तो भारत को 26 ओवर में 117 के सामान्य से स्कोर पर समेटा। उसके बाद 118 रनों का टारगेट 11 ओवर में बगैर विकेट गंवाए हासिल कर लिया।

इस जीत से तीन मैचों की सीरीज रोमांचक मोड़ पर आ गई है। अब दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं। तीसरा और निर्णायक मुकाबला 22 मार्च को चेन्नई में खेला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.