अवैध संबंध के चलते पैदा हुई आठवीं बेटी, जमीन पर पटककर की हत्या

बिलासपुर (मानवीय सोच) अवैध संबंध के चलते आठवीं बेटी पैदा होने पर निर्मोही मां ने जमीन में पटककर उसकी हत्या कर दी. फिर अपना कुकर्म छुपाने नवजात बच्ची के शव को गड्ढे में फेंक दिया था. ये मामला तोरवा क्षेत्र के देवरीडीह का है, तोरवा पुलिस ने आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया है.

दो भागों में मिला था नवजात का शव 

बीते 9 फरवरी को देवरीडीह नहरपारा में रहने वाली गुड्डी विश्वकर्मा के आंगन में दो भागों में नवजात शिशु का शव पड़ा हुआ मिला था. तोरवा पुलिस मामले की जांच कर रही थी.

पुलिस को ऐसे हुआ शक 

इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि देवरीखुर्द नहरपारा निवासी राधिका यादव को कुछ दिनों पहले गर्भवती अवस्था में देखा गया था लेकिन वह अब सामान्य दिख रही है. पुलिस ने उस घर में पूछताछ की जहां वह काम करने जाती थी.

नाजायज बेटी पैदा होने पर की हत्या 

पुलिस को पता चला कि कुछ दिनों से वह काम करने नहीं जा रही है. पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने नाजायज बेटी पैदा होने पर लोकलाज के भय से उसकी हत्या कर शव घर के पीछे गड्ढे में फेंक देने की बात कही.

3 साल पहले घर छोड़कर चला गया था पति

दरअसल, 3 साल पहले उसका पति उसे बच्चों के साथ छोड़कर चला गया. आरोपी महिला की 7 लड़कियां थीं. उसमें से 2 की शादी हो चुकी है. एक लड़की बहन के साथ ससुराल में रह रही है. अन्य 4 लड़कियां उसके साथ रह रही हैं.

इस दौरान उसका अज्ञात व्यक्ति से नाजायज संबंध हो गया. प्रेग्नेंट होने पर उसने अबॉर्शन की कोशिश की लेकिन दवा का असर नहीं हुआ. उसने 5 फरवरी को घर में बच्ची को जन्म दिया, फिर 8 फरवरी की रात घर मे जमीन में पटककर नवजात बच्ची की हत्या कर दी और शव को घर के पीछे गड्डे में फेंक दिया था. तोरवा पुलिस उसे गिरफ्तार कर धारा 302 , 315 , 201 के तहत कार्रवाई कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.