ओवैसी पर हमला करने वालों को मंत्री का सपोर्ट

नोएडा (मानवीय सोच) उत्तर प्रदेश के मंत्री सुनील भराला ने एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर हमले के आरोप में गिरफ्तार किए गए सचिन और शुभम को समर्थन देने की घोषणा की है. मंत्री सुनीला भराला ने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच होगी. मंत्री के इस बयान पर ओवैसी ने भी जवाब दिया है.

मंत्री सुनील भराला ने आरोपी के परिजनों से की मुलाकात

मंत्री सुनील भराला ने मामले में आरोपी सचिन शर्मा और शुभम के परिवारों को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में असदुद्दीन ओवैसी पर 4 फरवरी को हुए हमले की ‘निष्पक्ष जांच’ का आश्वासन दिया, जिसमें लोक सभा सांसद ओवैसी की कार पर गोलियां चलाई गई थीं. बता दें कि मंत्री सुनील भराला ने बीते मंगलवार को गौतम बुद्ध नगर में सचिन शर्मा के परिवार से मुलाकात की थी.

हर तरीके से सचिन और शुभम के परिवार के साथ

यूपी के मंत्री सुनील भराला ने ट्वीट किया, ‘हम हर तरीके से सचिन शर्मा व शुभम के परिवार के साथ, उनको पूरा सहयोग देंगे, मामले की निष्पक्ष जांच होगी.’

मंत्री को ओवैसी का जवाब

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि जिन्होंने मेरे ऊपर गोलियां चलाईं, बीजेपी के नेता उनसे मिल रहे हैं. सुरक्षा लेने के सवाल पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुझे Z कैटेगरी की सुरक्षा नहीं चाहिए, हमें A कैटेगरी का नागरिक बनाया जाए.

आरोपी का ‘कबूलनामा’

ओवैसी पर हमले के आरोपी सचिन ने बताया कि 2014 में असदुद्दीन ओवैसी के भाई अकबरुद्दीन ओवैसी का एक बयान आया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि ताजमहल और कुतुब मीनार हमारे बाप-दादाओं का है और तुम हमें भगाने की बात करते हो. उसकी इस बात से वो बहुत नाराज था.

पिलखुआ में ओवैसी पर हुआ था हमला

जान लें कि हापुड़ के पिलखुआ में टोल प्लाजा से गुजरते समय असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर हमला हुआ था. हमलावरों ने उनकी गाड़ी पर गोलियां चलाई थीं. इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों सचिन और शुभम को गिरफ्तार किया है.

एआईएमआईएम चीफ के ऊपर हुए हमले के वीडियो में दिख रहा है कि जैसे ही असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर गोली लगती है, उनकी गाड़ी तेजी से आगे बढ़ जाती है. इसके बाद आरोपी ओवैसी की SUV कार के पीछे भागने लगता है. फिर गाड़ी यू-टर्न लेकर चली जाती है और हमलावर अपने मंसूबे में नाकाम हो जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.