घाटी में डर फैलाने वालों की खैर नहीं, ढाई महीने में 35 आतंकी ढेर

श्रीनगर (मानवीय सोच) इस साल के पहले ढाई महीने में कश्मीर में 35 आतंकियों को मारने में सुरक्षाबल  सफल रहे हैं. मारे गए आतंकियों में दस पाकिस्तानी नागरिक थे. पिछले 15 घंटे घाटी में आतंकियों पर भारी पड़े. उतर, दक्षिणी और मध्य कश्मीर में आतंकियों पर घातक प्रहार हुआ. तीन मुठभेड़ों में चार आतंकी ढेर हो गए और एक आतंकी गिरफ्तार किया गया.

कश्मीर में आतंकियों का खात्मा जारी

पुलवामा में एक पाकिस्तानी सहित जैश के दो आतंकियों का खात्मा हो गया तो हंदवाड़ा और गांदरबल में लश्कर का एक-एक आतंकी मारा गया. इसके अलावा एक आतंकी गिरफ्तार किया गया.

घाटी में आतंक विरोधी अभियान

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने कहा कि घाटी में कल शाम 4-5 जगहों पर आतंक विरोधी अभियान शुरू किए गए थे. तीन जगहों पर आतंकियों के खिलाफ करवाई हुई, जिसमें सुरक्षाबलों को कामयाबी मिली.

पुलवामा में दो आतंकी ढेर

अधिकारी ने कहा कि बीती शाम पहली मुठभेड़ दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले के चेवाकलां गांव से शुरू हुई, जहां दो आतंकवादी तड़के मारे गए. हालांकि शाम को अंधेरे के कारण एहतियात के तौर पर ऑपरेशन निलंबित कर दिया गया था.

मध्य कश्मीर में गांदरबल जिले के कौबाग नुनार इलाके में दूसरा एनकाउंटर तड़के शुरू हुआ. मुठभेड़ में लश्कर का एक आतंकवादी मारा गया. आशंका है कि यहां कुछ और आतंकी छिपे हो सकते हैं.

उत्तरी कश्मीर में कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा इलाके के रजवार नेचामा में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच तीसरी मुठभेड़ हुई. उस ऑपरेशन में लश्कर-ए-तैयबा का एक आतंकी मारा गया.

गौरतलब है कि कश्मीर में 10 फरवरी को तीन आतंकवादी मारे गए थे, पुलवामा के बटपोरा इलाके में लश्कर के दो आतंकवादी मारे गए थे और श्रीनगर के हजरतबल इलाके में एक आतंकवादी मारा गया था.

कश्मीर में इस साल अब तक 20 आतंकवाद विरोधी ऑपरेशन हुए हैं और सुरक्षाबल तीन टॉप कमांडरों और 10 पाकिस्तानी आतंकवादियों सहित 35 आतंकवादियों को मारने में कामयाब रही है. इसके अलावा सुरक्षाबलों ने इस साल 16 सक्रिय आतंकियों को जिंदा गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है और तीन दर्जन से ज्यादा आतंकियों के साथियों को भी जिंदा गिरफ्तार किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.