पहली बार UAE में लगने वाला है इनकम टैक्स

दुबई  (मानवीय सोच) संयुक्त अरब अमीरात  दुनिया के उन देशों की लिस्ट में शामिल हैं, जहां लोगों को इनकम टैक्स नहीं देना पड़ता. बीच में खबरें आईं कि यूएई कुछ टैक्स में बदलाव कर सकता है. लेकिन यूएई के विदेश व्यापार राज्य मंत्री  डॉ. थानी अल जायौदी ने कहा है कि वहां फिलहाल कोई इनकम टैक्स नहीं लगेगा.

यूएई में नहीं लगेगा इनकम टैक्स

Gulfnews की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जायौदी ने एक इंटरव्यू के दौरान इनकम टैक्स नहीं लगाने की बात कही. उन्होंने कहा कि ‘इनकम टैक्स लगाने का प्लान अभी मेज पर नहीं है.’ बता दें कि यूएई ने इस साल की शुरुआत में कहा था कि वो 2023 से शुरू होने पहले 9 प्रतिशत कॉर्पोरेट टैक्स लगाएगा. क्योंकि यूएई खुद को नए अंतरराष्ट्रीय मानकों के साथ रखना चाहता है.

कॉरपोरेट टैक्स को स्वीकर कर रहे हैं कारोबारी

मंत्री ने कहा कि यूएई के नए कॉरपोरेट टैक्स को कारोबारियों ने सकारात्मक तरीके से स्वीकार किया है. अल जायौदी के अनुसार, नई लेवी उन ज्यातार टैक्स को बदलने जा रही है, जिन्हें अब कंपनियों को चुकाना होगा. खाड़ी देश ने कारोबारियों और अन्य लोगों के लिए टैक्स हेवन के रूप में अपनी प्रतिष्ठा को कम करने के लिए पहले ही कई कदम उठाए हैं.

पहली बार लगाया जाएगा कॉरपोरेट टैक्स

गौरतलब है कि हाल ही में यूएई ने एक बड़े बदलाव के तहत पहली बार संघीय कॉरपोरेट टैक्स लगाने की घोषणा की है. ये व्यवस्था अगले साल के मध्य से लागू होगी और इसके साथ ही यूएई भी व्यापार से होने वाली आय पर टैक्स लगाने वाले देशों में शामिल हो जाएगा. अभी तक यूएई में किसी तरह का कॉरपोरेट टैक्स नहीं लगता था. अगले कुछ हफ्तों में, वित्त मंत्रालय द्वारा कॉरपोरेट टैक्स कैसे लगाया जाएगा इसकी जानकारी मिल सकती है.

साल 2018 में लगाया गया था VAT

बता दें कि यूएई ने साल 2018 में रेवेन्यू को बढ़ाने के लिए ज्यादातर वस्तु और सेवाओं पर 5% टैक्स तय किया गया था. तब खाने-पीने की चीजें, कपड़े, पेट्रोल, फोन, पानी और बिजली के बिलों के साथ ही होटलों में बुकिंग पर वैट लगाया गया था. इसके साथ ही ओपेक के तीसरे सबसे बड़े उत्पादक के तेल और गैस क्षेत्र पर भी एक अलग टैक्स लगाया जाता है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.