IND vs ENG: बार-बार मैदान में उतरे जारवो का मजाक नहीं, सुरक्षा में चूक, ईसीबी को देना होगा जवाब

नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच मौजूदा टेस्ट सीरीज में पिच इनवेडर के नाम से मशहूर जार्वो ने तीसरी बार एंट्री की है, हालांकि इस जोक को फैंस काफी पसंद कर रहे हैं. लेकिन सुरक्षा के लिहाज से यह एक बड़ा जोखिम है।

ओवल टेस्ट में पिच पर पहुंचे जारवू
ओवल टेस्ट के दूसरे दिन, जब इंग्लैंड की टीम बल्लेबाजी कर रही थी, जार्वो अचानक मैदान में उतरे और तेजी से पिच की ओर भागे। वह गेंदबाजी के अंदाज में दौड़ने लगे। उन्हें देखकर सभी हैरान रह गए।

घुटन ओली पोप
इंग्लैंड की पारी के दौरान 34वें ओवर में जार्वो ने पिच पर तेजी से दौड़ लगाई और पीछे से ओली पोप को छू लिया. अचानक हुई कार्रवाई से पोप घबरा गए। हालांकि जरावो उन्हें छूकर आगे बढ़ गए, लेकिन तब तक कुछ देर के लिए मैदान में कोहराम मच गया।

लॉर्ड्स से शुरुआत
जार्वो ने पहली बार बिना अनुमति के लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान मैदान में प्रवेश किया। उन्होंने टीम इंडिया की जर्सी नंबर ’69’ पहनी हुई थी। वह वहां मौजूद गार्ड्स के सामने खुद को भारतीय टीम का सदस्य बताने लगा. जरावो को ऐसा करते देख मोहम्मद सिराज और बाकी खिलाड़ी हंस पड़े।

लीड्स टेस्ट के बाद लगाया गया प्रतिबंध

लीड्स टेस्ट के दौरान जार्वो ने बैटिंग गियर पहनकर मैदान में प्रवेश किया। जिसके बाद इंग्लिश काउंटी यॉर्कशायर ने जारवू पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया, साथ ही उन पर जुर्माना भी लगाया। यह शख्स अब कभी हेडिंग्ले स्टेडियम में प्रवेश नहीं कर पाएगा।

जारवू 69 कौन है?

जार्वो का असली नाम डेनियल जार्विस है, जिसे पिच इनवेडर के नाम से जाना जाता है, क्योंकि वह 69 नंबर की जर्सी पहनते हैं, इसलिए उन्हें ‘जार्वो 69’ भी कहा जाता है। फैंस उनके इस प्रैंक को खूब पसंद कर रहे हैं.

बड़ी सुरक्षा चूक

जार्वो को लेकर क्रिकेट प्रशंसक हंस रहे हैं, क्योंकि उनका जमकर मनोरंजन किया जा रहा है, लेकिन अगर देखा जाए तो यह क्रिकेटरों के लिए एक गंभीर खतरा है। हाल के दिनों में एक अंतरराष्ट्रीय मैच में प्रशंसकों का 3 बार मैदान में उतरना एक बड़ी सुरक्षा चूक है। ईसीबी को जवाब देना होगा कि उसने पिछली घटनाओं से क्यों नहीं सीखा।

कोरोना की दृष्टि से भी खतरनाक

कोरोना वायरस महामारी के बाद हर अंतरराष्ट्रीय सीरीज के दौरान एक बायो बबल तैयार किया जाता है, जहां कोई भी बाहरी व्यक्ति निर्धारित क्षेत्र में प्रवेश नहीं कर सकता है। इसको लेकर आईसीसी ने सख्त नियम भी बनाए हैं। इस एहतियात के बावजूद जार्वो के लिए खिलाड़ियों के आसपास पहुंचना खतरनाक है।

दिग्गजों ने उठाए सवाल

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा समेत मशहूर कमेंटेटर हर्षा भोगले ने भी जार्वो को सुरक्षा की दृष्टि से बड़ा खतरा बताया। साथ ही इस तरह की घटनाओं पर लगाम लगाने की अपील की गई है. आइए एक नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ ट्वीट्स पर।

Source-agency News

Leave a Reply

Your email address will not be published.