उज्जैन के महाकाल मंदिर में हादसा, गुलाल उड़ाते ही भस्म आरती के दौरान लगी आग

उज्जैन के महाकाल में एक हादसा सामने आया है। महाकाल मंदिर में भस्म आरती के दौरान आग की चपेट में आने से पांच पुजारी समेत 13 लोग झुलस गए। बताया जा रहा है कि गुलाल उड़ाते समय आग की लपटें तेज हो गई और वहां मौजूद पुजारी इसकी चपेट में आ गए।

कपूर से आरती कर रहे थे पुजारी

जानकारी के अनुसार, महाकाल मंदिर में पुजारी कपूर से आरती कर रहे थे। इसी दौरान ये आग लगी। इस आग की चपेट में आने से मंदिर में मौजूद छह दर्शनार्थी भी झुलस गए हैं। घटना के वक्त महाकाल मंदिर में होली का जश्न चल रहा था। इस बीच मुख्‍यमंत्री डॉ मोहन यादव के उज्‍जैन आने की संभावना है। बताया जा रहा है कि सीएम यादव महाकाल मंदिर प्रबंधकों से संपर्क में हैं और वह कुछ ही देर में उज्‍जैन जा सकते हैं।

घायलों को अस्पताल में कराया भर्ती

वहीं, घटना के बाद सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कलेक्टर नीरज सिंह और एसपी प्रदीप शर्मा भी अस्पताल पहुंच गए हैं। कुल 13 लोग आग की चपेट में आए हैं। फिलहाल सभी की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। इसके अलावा चार लोगों को इंदौर रेफर किया गया है।

सीएम मोहन यादव ने घटना पर जताया दुख

सीएम मोहन यादव ने घटना पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि आज प्रातः बाबा महाकाल मंदिर के गर्भगृह में भस्म आरती के दौरान हुई दुर्घटना दुखद है। मैं सुबह से ही प्रशासन के संपर्क में हूं। सब नियंत्रण में है। बाबा महाकाल से प्रार्थना है कि सभी घायल शीघ्र ही पूर्णतः स्वस्थ हों।

देखें हादसे का वीडियो

महाकाल मंदिर में हुए हादसे का वीडियो सामने आया है। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि महाकाल मंदिर के गर्भगृह में भस्म आरती चल रही थी। इस दौरान वहां गुलाल भी उड़ाया गया। हालांकि, देखते ही देखते गर्भगृह में आग की लपटे फैल गई। वहां मौजूद पुजारी और दर्शनार्थी इसकी चपेट में आ गए। बताया जा रहा है कि गुलाल में केमिकल होने के कारण ये आग लगी है।

ये लोग हुए घायल

सत्यनारायण, चिंतामन, रमेश, अंश, शुभम, विकास, महेश, मनोज, संजय, आनंद, सोनू और राजकुमार नाम के पुजारी और सेवक आग की चपेट में आने से झुलस गए हैं।

सीएम मोहन यादव का बेटा और बेटी भी थे मौजूद

बता दें कि सीएम मोहन यादव के बेटे और बेटी भी महाकाल मंदिर में मौजूद थे। वह दोनों भस्मारती में शामिल होने के लिए गए थे। दोनों सुरक्षित बताए जा रहे हैं। वहीं, कलेक्‍टर नीरज सिंह ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। साथ ही उन्होंने एक कमेटी बनाने का भी निर्देश दिया है।